Sunday, January 29, 2023
spot_imgspot_img

कांवड़ यात्रा के दौरान शहर में किसी भी होटल या धर्मशाला में बिना पहचान पत्र के नहीं मिलेगा कमरा, जिलाधिकारी ने दिए निर्देश

हरिद्वार। कांवड़ यात्रा के दौरान शहर में होटलों व धर्मशालाओं में बिना पहचान पत्र के कमरा नहीं मिलेगा। साथ ही कांवड़ियों की भीड़ के चलते व्यापारियों का माल दुकान में आने और ले जाने वाली समस्या को देखते हुए समय भी निर्धारित किया जाएगा।

मेला नियंत्रण भवन के सभागार में जिलाधिकारी विनय शंकर पांडेय और एसएसपी डॉ. योगेंद्र सिंह रावत ने होटल, धर्मशाला एसोसिएशन एवं व्यापार मंडल के पदाधिकारियों के साथ कांवड़ मेले को लेकर मंगलवार को बैठक की। इस बीच 14 से 27 जुलाई तक होने वाली कांवड़ यात्रा को लेकर मंथन हुआ। होटल एसोसिएशन हरिद्वार के अध्यक्ष आशुतोष शर्मा ने बताया कि अब कांवड़िये होटल और धर्मशालाओं में ठहरना पसंद करते हैं।

पार्किंग की कहां-कहां व्यवस्था की जा सकती है, इस पर उन्होंने अपने सुझाव दिए। जिलाधिकारी ने होटलों के किराये की जानकारी ली। व्यापारियों ने बताया कि होटलों के किराये को लेकर कभी भी कोई विवाद नहीं हुआ। जिलाधिकारी ने कहा कि किसी की भी गलत हरकतों का पता चले तो उसकी सूचना पुलिस को दी जाएगी। सीसीटीवी कैमरे अपनी दुकानों में लगाएं, जिसकी रिकॉर्डिंग को सुरक्षित रखें।

धर्मशाला एसोसिएशन के अध्यक्ष नरेश गौड़ ने बताया कि धर्मशालाओं में 99 प्रतिशत सीसीटीवी लगे हैं। कोई भी कमरा बिना पहचान पत्र के नहीं दिया जाता है। व्यापारियों की ओर से कांवड़ मेले के दौरान माल लाने और ले जाने में आने वाली दिक्कतों को लेकर जिलाधिकारी को अवगत कराया गया।

- Advertisement -spot_img

Latest Articles